घुटने और Jodo Ka Dard का एक मात्र इलाज | Joint Pain Treatment

आज के ज़माने में jodo ka dard एक आम बीमारी है । Joint Pain महसूस करने वाले ब्यक्ति को भुखार , वजन का घटना , और anemia जैसी बिमारिओं का भी सामना करना पड़ता है । जो की आपके lungs, heart, या kidney को नुक्सान पहुंचा सकता है ।

तो कितना जल्दी आप इन समस्याओं से बाहार आ सकते है ? अगर आप डॉक्टर के दिए गए दवाई खाके परेशां हो चुके है , और आप surgery भी नहीं करवाना चाहते, तो हम आपके लिए कुछ घरेलु नुस्के लाये है जो आपको ghutno ka dard से छुटकारा दे सकता है ।

Jodo Ka Dard Ka Ilaj Joint Pain Treatment in Hindi

इन नुसको से आपको बहुत जल्द घुटनों के दर्द से छुटकारा मिलेगा । ये उपकरण बहुत आसानी से उपलब्द है । पर इन्हें इस्तेमाल करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले , ताकि आपको यकीं हो जाये की यह नुस्के आपके लिए कितने फायदेमं है ।

तो ये रहा आपके लिए आसानी से मिलने वाले jodo ke dard ke nuskhe

दालचीनी से ghutno ke dard ka ilaj –

दालचीनी में कुछ ऐसे दर्द निबारक उपादान मौजूद होती है तो आपके jodo ka dard को कम कर सकते है । यह सर्दी के कारन आपके शारीर में होने वाले दर्द को भी कम करता है ।

आपको दालचीनी कुछ ज्यादा मात्रा में लेना पड़ेगा जोड़ो के दर्द से छुटकारा पाने के लिए । पर इतना भी ज्यादा नहीं जो आपके शारीर को नुक्सान करे ।

गर्ववती महिलाओं को इसका इस्तेमाल नहीं करना है । तो इसका इस्तेमाल करके आप ghutno ka dard से आराम पा सकते है ।

काली मिर्च ( गोलकी ) से dard ka ilaj –

काली मिर्च को हमेशा से ही दर्द निबारक मन जाता है । काली मिर्च में मौजूद capsaicin नाम के उपादान ना सिर्फ जोड़ो के dard ka ilaj करता है , बल्कि हर तरह की दर्द से राहत देता है ।

Black pepper

capsaicin नाम के उपादान बाजार में मिलने वाले कही सारे cream और lotion में पाए जाते है । तो इन्हें लगाने से आपको jodo ka dard से राहत मिल सकता है ।

मगर याद रखे यह कोई permanent इलाज नहीं है , और आपको इसका इस्तेमाल बार बार करना पड़ेगा दर्द से छुटकारा पाने के लिए ।

ग्रीन tea से jodo ka dard –

ग्रीन tea में मौजूद antioxidants ghutno ka dard को कम करने में मदद करते है । यह आपके immune system को भी ठीक रखते है , ताकि आप कम बीमार पड़े ।

हालाँकि इसका असर हर ब्यक्ति के लिए अलग है क्यूंकि हर ब्यक्ति के दर्द की गहराई अलग होती है । पर इसका कोई side effect नही होती । तो आप निर्भय हो के ग्रीन tea पी सकते है ।

हल्दी का इस्तेमाल से dard ka ilaj –

हल्दी को हमेशा से दर्द निबारक माना जाता है । हल्दी में मौजूद उपादान आपको कही दर्द से राहत देती है । और हम सब इसका इस्तेमाल अपने खाने भी करते है ।

लेकिन हम यहाँ कच्चे हल्दी से बने दवाई या तेल की बात ही कर रहे है । जिसका इस्तेमाल से आपको ghutno ka dard से राहत मिल सकता है ।

कच्चे हल्दी से बने दवाई या तेल में मिलावटी chemicals मौजूद नहीं होती जो बहुत अच्छे से काम करते है । और इसमें मौजूद antioxidants भी आपके दर्द पर जल्दी असर करता है ।

क्यूंकि इसमें कोई हानिकारक उपादान मौजूद नहीं होती इसलिए ये आपके लिए बिलकुल सुरक्षित है । और इसका इस्तेमाल आप निश्चिंत होकर कर सकते है ।

Willow Bark –

willow bark एक तरह की पेड़ की छाल होती है । इसमें मौजुब दर्द निबारक उपादान आपके jodo ka dard को कम कर सकता है । ये aspirin जैसी दवाई की तरह ही काम करती है ।

willow bark

यह बुखार, muscle का दर्द या ghutno ka dard के लिए असरदार है । लेकिन इसका इस्तेमाल भी आपको दालचीनी की तरह ही सही मात्रा में करनी होगी । जिन ब्यक्ति को kidney की समस्या है वह इसका इस्तेमाल ना करे ।

क्यूंकि willow bark में salicin नाम के केमिकल उपादान kidney के समस्या वाले ब्यक्ति के लिए हानिकारक है ।

 

तो ये था आपके लिए jodo ke dard ke nuskhe जो बिलकुल आसानी से मिल सकते है । इसका सही तरीके से इस्तेमाल करे और jodo ka dard से रहत पायें ।

पर ज्यादा दर्द होने पर अपने डॉक्टर की सलाह जरुर ले । इन घरेलु नुस्के को अजमाए और दर्द मुक्त होकर स्वस्थ रहे ।

Image License : pexels.compixabay.com under Creative Commons License

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*